Book Cover


कुम्भ मेला
एक क्षणिक महानगर का प्रतिचित्रण
Paper Type: 130 gsm art paper (matt) | Size: 240mm x 184mm
All colour; 195 photographs
ISBN-10: 93-86906-67-0 | ISBN-13: 978-93-86906-67-0

 995

कुम्भ मेला दुनिया में आयोजित किया जाने वाला सबसे बड़ा धार्मिक समारोह है, और इस दौरान दुनिया का सबसे विशाल जनसमूह यहाँ इकट्ठा होता है। इसके परिणामस्वरूप यहाँ एक आभासी मेगासिटी भी उभर कर सामने आता है। कुम्भ मेले की अपनी सड़कें, पांटून पुल और टेंट होते हैं जो आवास एवं आध्यात्मिक बैठकों के लिए स्थल की भूमिका निभाते हैं। इसके अतिरिक्त यहाँ अस्पतालों, शौचालयों और टीकाकरण तिकित्सा केंद्रों के तौर पर सामाजिक संरचनाएँ भी बनाई जाती हैं, जो बिल्कुल किसी वास्तविक शहर की तरह काम करती हैं। यह कुंभ नगरी लगभग 70 लाख लोगों के काम आती है, जो यहाँ 55 दिनों तक इकट्ठे रहते हैं। इसके अलावा यहाँ एक करोड़ से 2 करोड़ की संख्या में ऐसे लोग भी यहाँ आते हैं जो स्नान वाली 6 प्रमुख तिथियों को 24 घंटे तक का प्रवास करते हैं। 2013 में हार्वर्ड यूनिवर्सिटी की, कई विषयों से ताल्लुक रखने वाली टीम ने इस महाआयोजन की तैयारियों और इसमें होने वाले समारोह पर शोध किया। एक शहर के तौर पर इस मेले का यह पहला सिलसिलेवार अध्ययन था और इसमें सामाजिक मुद्दों, विविधताओं और उस लोकतांिक व्यवस्था जैसे मुद्दों को भी शामिल किया गया, जो इस शहर के निर्माण के दौरान सामने आते हैं। इस नगर में किसी एकल व्यक्ति के लिए भी स्थान होता है और व्यक्तियों के समूहों के लिए भी। इस संस्करण में इसी व्यापक शोध के परिणामों को प्रस्तुत किया जा रहा है। इसमें शहर के नक्शे, इसकी हवाई तस्वीरें, इसके विस्तृत रेखाचित्र और शानदार तस्वीरें भी हैं, जो कुंभ मेले के दौरान बनने वाले इस अल्पकालिक महानगर की भव्यता को दर्शाती हैं।



Felipe Vera
Felipe Vera
Author

The Volume presents the comprehensive research findings and includes city maps, aerial images, analytical drawings and photographs of this spectacular Ephemeral Mega city for the Kumbh Mela. It is the first systematic study on the Mela as a city ; a planned entity and covers issues of social inclusion, diversity, and even democracy. Researched by a team from Harvard Univesity, representing faculty from multiple displines, the volume talks about the large -scale event from its preparation to the actual celebration itself.

Rahul Mehrotra
Rahul Mehrotra
Author

Rahul Mehrotra is a practising architect and educator. He works in Mumbai and teaches at the Graduate School of Design at Harvard University, where he is Professor of Urban Design and Planning, and Chair of the Department of Urban Planning and Design as well as a member of the steering committee of Harvard’s South Asia Initiative. His practice, RMA Architects (www.RMAarchitects.com), founded in 1990, has executed a range of projects across India. Mehrotra has written, co-authored and edited a vast repertoire of books on Mumbai, its urban history, its historic buildings, public spaces and planning processes.