अपने ख़ुद के शब्दों में...लता मंगेशकर
Paper Type: 130 gsm art paper (matt) | Size: 236mm x 178mm; 228pp
All colour; 133 photographs
ISBN-13: 978-93-89136-53-1


वर्ष 1949 में लता के द्वारा गाया गया गाना, 'आएगा आनेवाला' जिसे फ़िल्म महल के लि ए फ़िल्माया गया था, इस गाने ने लता की अद्भत गायन कला को एक विशेष परिचय दिया; और उन्हें लोगों ने अपनी कल्पनाओं में जगह दी। बारंबार याद किए जाने वाले इस शावत गीत ने, अद्भतु गायन शैली, वि शुद्ध आवाज़ और शब्दों पर पकड़ की खूबसूरती की वजह से श्रोताओं के बीच रातों-रात अपना जादू बिखेर दिया। तक़रीबन छह दशकों से, भारतीय फ़िल्म संगीत में, उनका एकछत्र राज रहा है; और 2001 में उन्हें, भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान, ‘भारत रत्न’ से अलंकृत किया गया।

लता मंगेशकर, दुनिया के किसी भी गायक से ज़्यादा गाने वाली गायिका के रूप में
प्रसिद्धि के शीर्ष पर, विराजमान होने के बावजूद, एक नितांत निजी इनसान हैं, जिन्होंन॓ तड़क-भड़क और चकाचौधं से हमेशा ही दूरी बनाए रखी है।

अपने ख़ुद के शब्दों में...लता मंगेशकर, लता मंगेशकर और नसरीन मुन्नी कबीर के बीच, दिलचस्प बातचीत की वृहद श्रखला है, जो भारत की सबसे ज़्यादा प्रति भासंपन्न गायि का के जीवन के तमाम पहलुओं से परिचय कराती है, जिनकी आवाज़ ने असंख्य लोगों के दिलों में अपनी जगह बनाई हुई है।



Nasreen  Munni Kabir
Nasreen Munni Kabir
Author

Nasreen Munni Kabir is a London-based documentary filmmaker/author who has made several documentaries produced for Channel 4 TV (UK) including Follow that Star (a profile of Amitabh Bachchan, 1989), the series Movie Mahal and The Inner/Outer World of Shah Rukh Khan (2005, Chanel 4/Red Chillies). She has also written several books on Hindi cinema, including Guru Dutt, a life in cinema, Talking Films/Talking Songs with Javed Akhtar, and The Immortal Dialogue of Mughal-e-Azam. Born in Hyderabad, India, she has lived most of her life in the UK. In 1999, she won the first Asian Womens’ Achievement Award for promoting Indian cinema in the UK, and has been a governor on the board of the British Film Institute. She has also been a consultant to Channel 4 for over 25 years.

नसरीन मुन्नी कबीर, एक वृत्त- चित्र  निर्माता और लेखिका हैं, उन्होंन॓ चैनल 4 टीवी (यू.के .) के लि ए, विभिन्न वृत-चित्रों का  निर्माण  किया है, जिसमें, फॉलो दैट स्टार  (अमिताभ बच्चन का पार्व चित्र 1989) में, ‘मूवी महल और शाहरुख ख़ान की निजी और बाहरी ज़िंदगी’ (2005, चैनेल 4/रेड चि लीज) पर आधारित  ंखला है। उन्होंन॓ हिंदी सिनेमा के विषय पर काफ़ी किताबें भी  लिखी हैं, जिसमें, गुरूदत्त-ए लाइफ इन सिनेमा, जावेद अख़्तर के साथ टॉकिग सिनेमा/टॉकिग सॉन्ग्स, और द इम्मोर्टल डॉयलॉग ऑफ मुगल-ए-आज़म हैं।  हैदराबाद, भारत में जन्मीं, नसरीन ने अपने जीवन का अधिकाँश समय, लंदन (यू.के.) में बिताया है, 1969 में उन्हें, भारतीय सिनेमा को यू.के. में बढ़ावा  देने के  लिए, पहले ‘एशियन वुमंस अचीवमेंट अवॉर्ड’से सम्मानित किया गया, वे 6 वर्ष तक, ‘ब्रिटिश फ़िल्म इंस्टीट्यूट’ की पूर्व अध्यक्ष भी रही हैं। चैनल 4 के  लिए, पिछले 25 वर्षों से परामर्शदाता के रूप में सेवाएँ दे रही हैं; और उनके , ‘20 पार्ट इंडियन फ़िल्म सीजन’ की सहायिका हैं। वर्तमान में वे, राज कपूर की आवारा, पर एक किताब पर काम कर रही हैं।